• Wednesday, 05 October 2022
महागाई भत्ता बंद : वेतन में कटौती : काम के घंटे बढ़ाने के विरोध में कर्मचारियों ने किया प्रतिरोध मार्च

महागाई भत्ता बंद : वेतन में कटौती : काम के घंटे बढ़ाने के विरोध में कर्मचारियों ने किया प्रतिरोध मार्च

शेखपुरा ।
गुरुवार को सदर अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा प्रतिरोध मार्च का आयोजन किया गया। सरकार द्वारा महंगाई भत्ता फ्रीज करने, वेतन व भत्तों में कटौती, कार्य का घंटा बढ़ाने जाने, एनपीएस को समाप्त कर सभी को पुरानी पेंशन देने इत्यादि मांगों को लेकर प्रतिरोध दिवस मनाया गया।

सदर हॉस्पिटल के शाखा मंत्री अजय कुमार के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कर्मचारियों के बिहार चीकीत्सा व जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ और बिहार राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महा संघ के बैनर तले प्रदर्शन भी किया। इस आन्दोलन में दिलशाद आलम, चन्द्र प्रकाश, यद्दु प्रसाद, धर्मशिला, अम्बलोका, अविनास कुमार आदि लोग शामिल थे। राज्य इकाई के निर्देश पर यह प्रतिरोष दिवस मनाया गया। इस सम्बन्ध में प्राप्त जानकारी में बताया गया है कि सरकारी कर्मी वेतन वृद्धि में की गयी कटौती को वापस लेने, कोरोना वायरस के लिए कार्यरत सभी नियमित और संविदा पर कार्यरत कर्मियों को पचास लाख रूपये का बीमा करने की मांग की। इस सम्बन्ध में बाद में जिलाधिकारी को एक ज्ञापन भी दिया गया। प्रतिरोध मार्च के माध्यम से सभी कर्मी पुरानी पेंशन योजना लागु करने की मांग भी कर रहे थे। अभी जारी एनपीएस व्यवस्था को समाप्त करने को कहा जा रहा था। कर्मचारियों के सरकारी उपक्रम में कार्यरत कर्मियों के काम के घंटा को बढ़ाने का भी विरोध कर रहे थे। सभी कर्मचारी इस सरकार के इस मजदुर विरोधी आदेश को जल्द वापस करने की मांग कर रहे थे। प्रतिरोध मार्च के दौरान सभी कर्मचारी दूरी का पूरा ख्याल रखे हुए थे। सभी के चेहरे पर मास्क भी देखे जा रहे थे. सरकार के इन कथित कर्मचारी विरोधी आदेशो को लेकर पहले भी प्रतिवाद किया गया था।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like