• Saturday, 20 July 2024
शेखपुरा जिला श्रमजीवी पत्रकार यूनियन का 21वां वार्षिक सम्मेलन में एकता पर बल, सुधार की उठी आवाज

शेखपुरा जिला श्रमजीवी पत्रकार यूनियन का 21वां वार्षिक सम्मेलन में एकता पर बल, सुधार की उठी आवाज

DSKSITI - Small
शेखपुरा जिला श्रमजीवी पत्रकार यूनियन का 21वां वार्षिक सम्मेलन में एकता पर बल, सुधार की उठी आवाज 
 
शेखपुरा
 

शेखपुरा जिला श्रमजीवी पत्रकार यूनियन का 21वां वार्षिक सम्मेलन रविवार को किया गया। इसमें वर्तमान समय में मीडिया की भुमिका पर कार्यशाला भी आयोजित हुआ।


सम्मेलन का आयोजन शेखपुरा के दल्लु चौके पास प्रसिद्ध कैपिटल होटल सभागार में किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में प्रभारी जिला अधिकारी सियाराम सिंह के साथ-साथ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरविंद सिंहा, सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी सौरभ कुमार शामिल हुए। 
श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के संरक्षक पूर्व सिविल सर्जन डॉक्टर मृगेंद्र सिंह भी अपनी भागीदारी दी। जबकि यूनियन के राष्ट्रीय और प्रदेश स्तर के प्रमुख पदाधिकारी भी इसमें शामिल हुए। 
प्रभारी जिला अधिकारी सियाराम सिंह ने कहा कि पत्रकारिता एक जिम्मेवारी का काम है और प्रशासन की आंख खोलने का भी काम इसके माध्यम से होता है। जब भी जनता की बात मीडिया से मालूम होती है तो प्रशासन उस पर पहल कर उसका निदान करती है दोनों में सामंजस्य से जिले का विकास होता है। 
अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने भी पुलिस और पत्रकारों के  मिल कर काम करने की बात कही। साथ-साथ कई बड़ी घटनाओं में पत्रकार के सहयोग मिलने की बात भी राखी। कहा कि सामंजस्य से बेहतर काम होता है। यह भी कहा कि पत्रकारों को भी अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। जब भी उनको कुछ भी पूछा जाता है तो वह तुरंत इसकी जानकारी पत्रकारों को उपलब्ध कराते हैं। डीपीआरो ने चुनाव में मीडिया से वोटिंग को लेकर मिले जागरुकता की प्रशंसा की। 
सम्मेलन में यूनियन के राष्ट्रीय सचिव जयप्रकाश सिंह ने पत्रकारों को कई बिंदुओं पर गंभीर जानकारी दी। कहा कि नारद के समय से ही पत्रकारता चली आ रही है। हम लोग उन्हें के अनुयाई हैं । यह भी बताया कि हमें गंभीरता और जिम्मेदारी से पत्रकारिता का काम करना चाहिए ताकि पत्रकारिता को दाग न लगे । कुछ लोग इधर-उधर करते हैं जिससे गंभीर खतरा उत्पन्न हो रहा है। ऐसे करने वाले लोग उपहास के पात्र बन जाते हैं। 
 
पटना से आए संगठन के एसएम श्याम ने भी मोबाइल लेकर पत्रकारिता करने वालों को सतर्क किया और कहा की गंभीरता से पत्रकारिता करनी चाहिए यह समझ में बदलाव लाता है। 
सम्मेलन में संस्कार पब्लिक स्कूल के निदेशक विनोद कुमार ने भी बोलते हुए कहा कि पत्रकारों को तलाश कर, तराश  कर समाचार लाना चाहिए और फिर उसको मांज कर प्रसारित करना चाहिए। जल्दबाजी में गलत खबर प्रसारित हो जाता है जिससे खतरा है। 
DSKSITI - Large

संगठन के संरक्षण ने भी इस बात को दोहराया और पत्रकारों को खबरों को पुष्ट करके बेहतर तरीके से प्रस्तुत करने की बात रखें। 
 
सम्मेलन में मंच संचालन महासचिव नवीन कुमार ने किया। स्वागत भाषण अध्यक्ष अजीत सिंहा ने किया। जबकि पत्रकार अरविंद कुमार संबिल हैदर, संजय मेहता, अरुण साथी, रंजीत कुमार, सत्येंद्र शर्मा, दीपक कुमार इत्यादि लोगों ने भी सम्मेलन में मीडिया की भूमिका पर अपनी बातों को रखा। 
 
इस अवसर पर मुख्य अतिथि और एवं आए हुए अतिथियों का अंग वस्त्र देकर स्वागत और अभिनंदन किया गया। 
 
जिले के सभी पत्रकारों को आए हुए अतिथियों ने अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया। 
 
21 में सम्मेलन में नवीन कुमार पुन: संगठन के महासचिव चुने गए। जबकि अध्यक्ष के रूप में पुनः अजीत सिंहा को जिम्मेदारी दी गई। वहीं नए पद के रूप में उपाध्यक्ष के रूप में रंजीत कुमार को जिम्मेदारी दी गई। संबिल हैदर को भी उपाध्यक्ष चुना गया। संजय मेहता को जिला संगठन में सचिव की जिम्मेदारी दी गई। संगठन में सर्वसम्मति से एकता बनाए रखने की बात कही और किसी भी मुद्दे पर एकजुट होकर उसके समाधान का बात भी उठा। सम्मेलन में अभय कुमार, उमेश कुमार, संजय गुप्ता, रवि कुमार, अरविंद कुमार, सुरज कुमार, सुबिद पांडेय, राजेश कुमार इत्यादि सक्रिय रहे। 
new

SRL

adarsh school

st marry school

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like