latest posts

9430804472 / 7992322662 sathisnews@gmail.com
शेखपुरा

मगही भाषा के आठवीं अनुसूची में शामिल करे खातिर होतो धरना..

शेखपुरा।

जिला साहित्य संगम समिति शेखपुरा कि बैठक अध्यक्ष उपेंद्र प्रेमी की अध्यक्षता में की गई। बैठक शहर के प्रसिद्ध श्याम सरोवर पार्क मे आयोजित की गई। बैठक मे सर्वसम्मति से 24 सितंबर के मगही मगध नागरिक संघ कोलकाता द्वारा मगही भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल करने हेतु आयोजित एक दिवसीय धरना के सफल बनाने को लेकर साहित्य संगम समिति के सदस्यों ने भी जोरदार समर्थन करने का निर्णय लिया ।

इस धरना आंदोलन में कम से कम पचास की संख्या में मगही कवियों को भी बुलाने का निर्णय लिया गया। इस आंदोलन की सफलता को लेकर चार सदस्यीय दल बनाया गया। जिसका नेतृत्व अनील आनंद, लखैरा लाल, जितेंद्र महतो, ब्रजेश सुमन को करने की जिम्मेवारी सौपी गई।

दल के लोग समाज मे मगही भाषियों को जगाने के लिए उनके बीच जागरूकता अभियान चलाएंगे। बैठक में केंद्र सरकार पर मगही भाषा के उत्थान में अभिरुचि न लेने का आरोप लगाया गया। साथ ही देश मे करोड़ो लोंगो की भाषा मगही होने के बाबजूद इस भाषा को भारतीय संविधान के आठवी अनुसूची में शामिल न किये जाने पर रोष व्यक्त किया गया।

बैठक में हिन्दी साहित्यकार नीरज के निधन पर दो मिनट के मौन रख उनके गुणों को याद किया गया। साथ ही मृत आत्मा के शांति के कामना सबों ने की।इस मौका पर अभय विद्रोही, अनिल आनंद, प्रवीण बटोही, कुशवाहा कृष्ण, ममता कुमारी,हरी ओं, लखैरा लाल,मायूस शेखपुरवी सत्यदेव, ब्रजेश कुमार सुमन, राजेश कुमार, सहित कैक मगही साहित्यकार उपस्थित थे ।

stay connected

- Advertisement -

ताज़ा ख़बर

- Advertisement -
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: