• Wednesday, 08 February 2023
हॉस्टल की छात्रा से स्कूल संचालक के द्वारा रेप के मामले में क्यों कुछ नहीं हो रहा

हॉस्टल की छात्रा से स्कूल संचालक के द्वारा रेप के मामले में क्यों कुछ नहीं हो रहा

हॉस्टल की छात्रा से स्कूल संचालक के द्वारा रेप के मामले में क्यों कुछ नहीं हो रहा

बरबीघा, शेखपुरा:

बिहार के शेखपुरा जिले के बरबीघा नगर परिषद क्षेत्र में संचालित मौर्या पब्लिक स्कूल के संचालक रंजीत प्रसाद के द्वारा हॉस्टल में रहने वाली एक छात्रा से दुष्कर्म का मामला सामने आया। 4 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस का हाथ इसमें खाली है। पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। ऐसे में कई तरह के सवाल उठने लगे हैं।

बता देंगे 4 दिन पहले हनुमान नगर में संचालित इस स्कूल के संचालक के द्वारा हॉस्टल में रहने वाली एक 12 वर्ष की छात्रा से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया था। छात्रा के द्वारा अपने परिवार को जब इसकी सूचना दी गई तो परिवार के लोग बरबीघा थाना पहुंचे और इसकी शिकायत दर्ज कराई । छात्रा का घर भी बरबीघा थाना क्षेत्र के एक गांव से जुड़ा हुआ है ।

पुलिस के द्वारा मीडिया के हस्तक्षेप और हील हुज्जत के बाद प्राथमिकी तो दर्ज कर ली गई परंतु अभी तक किसी की गिरफ्तारी इस मामले में नहीं होना बड़े सवाल खड़े कर रहे हैं। राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियों में रहे इस जघन्य कांड को लेकर पुलिस की शिथिलता देखी जा रही है। ना तो स्पीडी ट्रायल ना ही अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर कोई बड़ी पहल हो रही है। अभी तक कुर्की जब्ती की प्रक्रिया भी नहीं की जा रही है।

 

क्या कहते हैं पुलिस के पदाधिकारी

इस मामले में पुलिस के पदाधिकारी थानाध्यक्ष जयशंकर प्रसाद ने बताया कि आरोपित किए गए रंजीत प्रसाद फरार चल रहा है।। पुलिस उसकी गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी कर रही है।। उधर मेडिकल रिपोर्ट के बारे में पूछने पर जयशंकर मिश्रा के द्वारा यह बताया जा रहा है कि मेडिकल रिपोर्ट न्यायालय में सील बंद लिफाफे में जमा करा दिया गया है। इसकी सूचना किसी को नहीं दी जा सकती है । जब इस पूरे मामले में यह बात भी सामने आ रही है कि 164 का बयान भी दर्ज करा दिया गया है।

 

पंचायत लगाकर अस्मत की लग सकती है बोली

उधर, इस पूरे मामले में इस बात की भी चर्चा हो रही है कि पंचायत की पहल पर छात्रा से किए गए दुष्कर्म के मामले में बोली लगाने का काम भी अंदर खाने चल रहा है । बताया जा रहा है कि पैसे के दम पर इस पूरे मामले को दबाने का प्रयास अंदर अंदर कई लोग कर रहे हैं और उनकी सक्रियता देखी जा रही है । मेडिकल रिपोर्ट तक प्रभावित करने की चर्चा भी उठ रही है।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like