• Wednesday, 08 February 2023
बिस्कोमान कृषक सेवा केंद्र से दो लाख चौरानबे हजार की संदिग्ध चोरी..

बिस्कोमान कृषक सेवा केंद्र से दो लाख चौरानबे हजार की संदिग्ध चोरी..

बरबीघा
बरबीघा नगर क्षेत्र में स्थित बिस्कोमान कृषक सेवा केंद्र से दो लाख चौरानबे हजार की चोरी हो गई । यह चोरी की घटना 11, 11, 2020 पिछले मंगलवार को हुआ। पांच दिनों तक विभागीय जांच के बाद क्षेत्रीय प्रभारी पल्लवी पांडे ने बरबीघा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। हालांकि इस मामले को संदिग्ध भी माना जा रहा है। इस मामले में बिस्कोमान के कर्मी के सम्मिलित होने की बात भी चर्चा में हो रही है।

दर्ज प्राथमिकी में पल्लवी पांडे ने कहा है कि बरबीघा बिस्कोमान कृषक सेवा केंद्र में सहायक गोदाम प्रबंधक के पद पर दीपक कुमार पदस्थापित हैं। दीपक कुमार काशीचक थाना क्षेत्र के शुम्भाडीह गांव निवासी हैं। रात्रि प्रहरी के रूप में अशोक कुमार बरबीघा थाना क्षेत्र के बबनबीघा गांव निवासी हैं।

पल्लवी पांडे ने कहा कि सुबह दूरभाष पर दीपक कुमार ने सूचना दिया कि बिस्कोमान कृषक सेवा केंद्र बरबीघा पर चोरी की घटना हुई है । सूचना प्राप्त होते ही स्थल निरीक्षण के लिए जब मैं पहुंची तो दीपक कुमार ने बताया कि दिनांक 11,11, 2020 को जब वह ऑफिस पहुंचे तो उन्होंने देखा की दरवाजे का सिकरी लगा हुआ है और कुंडी खुला हुआ है। दीपक कुमार ने कहा कि उन्होंने अशोक कुमार को बुलाया और कार्यालय का गेट लेबर से खुलवाया तो देखा कि टेबल का ताला नहीं है और उसमें रखा उर्वरक बिक्री का नगदी राशि 294000 गायब था।

दर्ज प्राथमिकी में उन्होंने कहा कि बरबीघा बिस्कोमान कृषक केंद्र की चाभी दीपक कुमार और अशोक कुमार दोनों के पास रहता है । इस संबंध में बरबीघा थाना प्रभारी जयशंकर मिश्रा ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन की जा रही है।

पूरा मामला लग रहा है संदिग्ध

यह पूरा मामला पूरी तरह से संदिग्घ लग रहा है। बताया जाता है कि अशोक सिंह विधिवत छुट्टी में थे। दीपक कुमार के द्वारा उस दिन बिक्री की बड़ी राशि को बैंक में जमा किया गया था। उसी दिन साढे तीन बजे ₹443000 दीपक कुमार के द्वारा बैंक में जमा किया गया है। अब इंक्वायरी में यह बात बताई जा रही है कि उस दिन के सेल का पैसा जमा नहीं किया गया है। इस तरह से इस पूरे मामले को संदिग्ध देखा जा रहा है। जबकि अशोक सिंह अवकाश पर होने की बात बताया जा रहा है।

इतनी बड़ी राशि जर्जर भवन में रखना भी संदिग्ध

प्रखंड कार्यालय परिसर में स्थित बिस्कोमान का भवन संचालन जिस कार्यालय से होता है वह जर्जर है। उसके दरवाजे भी जर्जर अवस्था में है। वैसे मैं इतनी बड़ी राशि वहां रखना अपने आप में संदिग्ध होने की गवाही दे रही है।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like