• Saturday, 03 December 2022
युवा हो गए है निगेटिव, पोजेटिव बनाने का क्या है वैज्ञानिक उपाय, जानिए…

युवा हो गए है निगेटिव, पोजेटिव बनाने का क्या है वैज्ञानिक उपाय, जानिए…

बरबीघा।

वर्तमान समय में युवा पीढ़ी बहुत ही नकारात्मक हो गई है वैसे समय में शिक्षकों के कंधे पर यह दायित्व है कि उनकी नकारात्मकता दूर कर उन्हें सकारात्मक बनाया जाए।

ध्यान और गायत्री मंत्र है वैज्ञानिक

युवाओं को सकारात्मक बनाने के लिए ध्यान और गायत्री मंत्र का जाप सर्वश्रेष्ठ माध्यम है और वैज्ञानिक शोधों से इस को प्रमाणित किया जा चुका है। उक्त बातें प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ पटना से आए वक्ता मनीष कुमार एवं निशांत रंजन ने कही।

संगोष्टी का हुआ आयोजन

मौका युवाओं के भविष्य निर्माण में शिक्षकों की भूमिका पर आयोजित संगोष्ठी का था। इस संगोष्ठी का आयोजन शनिवार को प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ बरबीघा शाखा के द्वारा गायत्री शक्तिपीठ बरबीघा में किया गया था।

गायत्री मंत्र सबसे सशक्त

इस अवसर पर मनीष कुमार ने कहा कि शिक्षक बच्चों को क्या पढ़ाते हैं इससे ज्यादा महत्वपूर्ण है कि बच्चे शिक्षक के पढ़ाए हुए बातों को कितना ग्रहण करते हैं। बच्चों के ग्रहण करने की क्षमता को बढ़ाने का गायत्री मंत्र एक बहुत सशक्त माध्यम है।

अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा ने भी माना

मनीष कुमार ने जिक्र करते हुए कहा कि अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा भी गायत्री मंत्र की महत्ता को मानते हैं और उन्होंने शांतिकुंज हरिद्वार में इस बात का जिक्र भी किया था। इस अवसर पर निशांत रंजन ने कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता हैं ऐसे में उनकी जिम्मेवारी सबसे अधिक हो जाती है।

इस अवसर पर प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ से जुड़े हुए युवक प्रणव प्रसून, कुणाल कुमार, राकेश कुमार, सहित प्रकोष्ठ के वरिष्ठ मनोज कुमार, सुखेंद्र कुमार इत्यादि लोग मौजूद थे।

Share News with your Friends

Tags

Comment / Reply From

You May Also Like