• Wednesday, 05 October 2022
82 बर्षीय बुजुर्ग को 35 साल बाद बैंक ने इतना दिया कर्ज का नोटिस, बेहोश

82 बर्षीय बुजुर्ग को 35 साल बाद बैंक ने इतना दिया कर्ज का नोटिस, बेहोश

82 बर्षीय बुजुर्ग को 35 साल बाद बैंक ने इतना दिया कर्ज का नोटिस, बेहोश

शेखपुरा

82 वर्षीय एक बुजुर्ग को ग्रामीण बैंक के द्वारा 35 वर्ष के बाद ₹9 हजार कर्ज के बदले ₹61967 की नोटिस थमा दी। वे लोक अदालत में आए तो बुजुर्ग बेहोश हो गए। इतना ही नहीं इस कर्ज में ₹5 हजार का कर्ज बुजुर्ग के द्वारा पहले ही चुका दिया गया था । अब इस मामले में बुजुर्ग को नोटिस मिला तो वे लोक अदालत में गए जहां वे बेहोश हो गए।

दरअसल पूरा मामला शेखपुरा में शनिवार को हुई लोक अदालत का है । लोक अदालत में बड़ी संख्या में लोग बैंक के कर्ज से संबंधित मामले को लेकर पहुंचे । वहीं शेखपुरा सदर प्रखंड के मंदना गांव निवासी 82 वर्षीय लखन राम को उनके बेटे और पोते लेकर लोक अदालत में पहुंचे।

82 वर्षीय लखन राम को बैंक ने 61967 रुपए का नोटिस थमाया। टमटम चलाने वाले लखन राम को 82 वर्ष की उम्र में हैं और 35 वर्ष के बाद उनको इस तरह का नोटिस दिया गया है। उनके द्वारा ₹9 हजार का कर्ज ग्रामीण बैंक से टमटम के लिए लिया गया था। वही ₹5 हजार उनके द्वारा जमा भी करा दिया गया था परंतु 61967 हजार रुपैया की नोटिस बैंक कर्मियों ने 35 साल के बाद दिया तो उनके होश उड़ गए । नोटिस मिलने पर परिवार के लोग उनको लेकर लोक अदालत में पहुंचे थे । शनिवार को लोक अदालत लगा था । वहां पहुंचने के बाद बुजुर्ग बेहोश हो गए। किसी तरह से उनको होश में लाया गया। बताया कि उन्हें 1980 में ग्रामीण बैंक से 9 हजार का कर्ज लिए थे। 2004 में कर्ज माफी की घोषणा हुई तो उनको भी लगा कि कर्ज माफ हो गया फिर अचानक 35 वर्ष के बाद नोटिस दिया गया।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like