latest posts

9430804472 / 7992322662 [email protected]
आजकल

साईं B.Ed कॉलेज में हुआ समारोह। कुलपति ने कहा मगध की धरती ज्ञान और गौरव का प्रतीक

शेखोपुरसराय।

शिक्षक दिवस पर जिले के शेखोपुरसराय प्रखंड के ओनमाँ स्थित साई कॉलेज ऑफ टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज में आयोजित राष्ट्रीय स्तर के अखिल भारतीय कवि सम्मेलन सह मुशायरा का आयोजन किया गया। जिसका विधिवत उद्घाटन मुंगेर विश्वविद्यालय , मुंगेर के कुलपति डॉ रणजीत कुमार वर्मा ने दीप जलाकर की।

मगध की धरती पूजनीय

कुलपति डॉ रंजीत कुमार वर्मा ने कहा कि मगध की धरती पूजनीय है और यह धरती ज्ञान तथा गौरव का प्रतीक है। इस धरती के लोग सौम्या और सुशील भी होते हैं। उन्होंने कई ऐतिहासिक बातों की चर्चा करते हुए इसे प्रमाणित भी किया।

इस अवसर पर कालेज के चेयरमैन अन्जेश कुमार, कार्यक्रम के संयोजक नूतन सिंह, पूर्व प्राचार्य डॉ राम विलास सिंह, पूर्व प्राचार्य डॉ रमाकांत प्रसाद सिंह , पूर्व प्राचार्य डॉ शिव भगवान गुप्ता, बरबीघा नगर परिषद के सभापति रौशन कुमार, पूर्व मुखिया एवम श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के जिला महासचिव नवीन कुमार , माध्यमिक शिक्षक संघ के जिला सचिव राजनीति कुमार , जदयू जिला अध्यक्ष डॉ अर्जुन प्रसाद , भाजपा जिला अध्यक्ष संजीत प्रभाकर , जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी एवम सर्जन डॉ के पुरुषोत्तम , डॉ कृष्णमुरारी सिन्हा, मेहुस कॉलेज के प्राचार्य डॉ रामप्रकाश सिंह , राजद के पूर्व जिला अध्यक्ष साधुशरण सिंह जदयू नेता उमेश पटेल सहित बड़ी संख्या में स्थानीय कवि और बुद्धिजीवी उपस्थित थे।

इस अवसर पर उपस्थित लोंगो ने पूर्व राष्ट्रपति व महान शिक्षाविद् डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। समारोह में बड़ी संख्या में कालेज में नामांकित ट्रेनिंग पा रहे शिक्षक व शिक्षिका भी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए मुंबई के प्रसिद्ध एवम ख्यातिप्राप्त तथा विभिन्न सम्मान से सम्मानित आईफा अवार्ड से सुशोभित फ़िल्म कहो ना प्यार है, का प्रसिद्ध गीत और मुहब्बत इनायत करम देखते है , कहाँ हम तुम्हारे सितम देखते है. जैसे हजारों गीत , गजल ,नगमा एवम नज्म के रचयिता इब्राहिम अश्क , फलक सुल्तानपुरी, यूपी, शाजिया नियाजी, डॉ अनवर इराज , दयाशंकर सिंह बेधड़क, रणजीत दुद्धु, उदय शंकर शर्मा सहित दर्जनों राष्ट्रीय एवम राज्य स्तर के कवि , शायर एवम कवयित्री पहुंच थे। बाहर से आये कवि और शायरों ने सभी को झुमने को विवश कर दिया।

कवियों ने सभागार में मौजूद प्रबूध श्रोताओ की खूब तालिया बटोरी।

आगत अतिथियो का स्वागत कॉलेज के चेयरमैन अँजेश कुमार ने पुष्प गुच्छ , अंगवस्त्र एवम स्मृति चिन्ह देकर किया। कॉलेज की प्रशिक्षु छात्राओं ने स्वागत गान गाकर अतिथियों का स्वागत की।

समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि मुंगेर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रणजीत कुमार वर्मा ने लोंगो से विश्व गुरु के रूप में रहे बिहार को फिर से ज्ञान का गुरु बनाने में अहम भूमिका निभाने की अपील की। उन्होंने लोंगो से चरित्र का निर्माण करने को भी कहा।आपने सारगर्भित उदबोधन में कुलपति ने कहा कि सदियों से हमारा मगध शिक्षा और ज्ञान के क्षेत्र में अब्बल रहा है।

stay connected

- Advertisement -

ताज़ा ख़बर

- Advertisement -
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: