आजकल

समाजवाद के सच्चे पुरोधा और विकास पुरुष थे राजो बाबू। पुण्यतिथि पर लोगों ने किया नमन

शेखपुरा।

पूर्व सांसद एवं प्रखर राजनीतिज्ञ स्वर्गीय राजो बाबू को उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर लोगों ने भावभीनी श्रद्धांजलि दी। श्रद्धांजलि सभा का आयोजन नगर के आजाद हिंद आश्रम में किया गया।

इस अवसर पर बरबीघा कांग्रेस विधायक एवं उनके पौत्र सुदर्शन कुमार, कांग्रेस जिला अध्यक्ष सत्यजीत कुमार सहित अन्य लोगों ने आजाद हिंद आश्रम में उनकी स्थापित प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और उनको याद करते हुए उन्हें विकास पुरुष की संज्ञा दी।

सबका विकास

इस अवसर पर कांग्रेस विधायक सुदर्शन कुमार ने कहा कि राजो बाबू समाजवाद के एक प्रखर पुरोधा थे और उनके लिए विकास ही सर्वप्रथम और एकमात्र रास्ता था। वह भेदभाव के बगैर सभी धर्म और जाति के लोगों का समान विकास करते थे और शेखपुरा जिला की स्थापना उनकी देन है और शेखपुरा जिले के विकास के लिए उन्होंने अपना कतरा कतरा बहा दिया।

9 सितंबर 2005 को कर दी गई थी हत्या

शेखपुरा जिले के हथियावां गांव में 2 मार्च 1928 को जन्मे पूर्व सांसद राजो बाबू की हत्या 9 सितंबर 2005 को अपराधियों ने गोली मारकर तब हत्या कर दी थी जब वे आजाद हिंद आश्रम में ही विकास कार्यों पर बातचीत कर रहे थे। इस हत्याकांड के बाद जिले की राजनीति में नई मोड़ ली थी।

मौके पर कांग्रेस नेता श्रवण कुमार, कमलेश कुमार, मुश्ताक अहमद, राजेंद्र सिंह, माधव पांडेय सहित अन्य मौजूद थे।

%d bloggers like this: