बरबीघा

Exclusive: साधारण किसान का बेटा विक्रांत निकला गुदड़ी का लाल। JEE Advance में मार ली बाजी। लाया 616 रैंक

शेखपुरा न्यूज़ ब्यूरो

गुदड़ी में लाल शायद इसी को कहा गया है।एक तरफ जहां बड़े-बड़े पैसे वाले अपने बच्चे को कोटा और जाने कहां कहां भेजकर पढ़ाते हैं वहीं साधारण से एक किसान ने अपने बेटे की पढ़ाई बरबीघा में कराई और पटना में तैयारी करके वह जी एडवांस में 616 रैंक ले आया।

यह कारनामा करके दिखाया है नालंदा जिले के सारे थाना क्षेत्र के खेतलपुरा गांव निवासी नारायण सिंह के पुत्र विक्रांत कुमार ने। विक्रांत कुमार जी एडवांस के रिजल्ट निकलते ही खुशी से झूम उठा।उसे उम्मीद थी कि वह 1000 के आसपास जाएगा परंतु 616 रैंक लाकार वह फूले नहीं समा रहा।

खैनी दुकान चलाते हैं पिता

विक्रांत के पिताजी साधारण किसान हैं और खेती के बाद बचे हुए समय में वह छोटी सी खैनी की दुकान चला कर अपने बच्चे को पढ़ा रहे थे। बच्चे की सफलता पर लोग आज उनको बधाई दे रहे हैं। नारायण सिंह बरबीघा नगर के सामाचक मोहल्ले में त्रिमुहानी के पास (कृष्ण कुमार भालोटिया) खैनी दुकान चलाते हैं।

अपने खैनी दुकान पे नारायण सिंह

बरबीघा से पढ़ाई की है विक्रांत ने

विक्रांत ने दसवीं तक की पढ़ाई बरबीघा के संत मैरी इंग्लिश स्कूल से पूरी की है। जबकि 12वीं की पढ़ाई विक्रांत ने श्री कृष्ण राम रूचि कॉलेज बरबीघा से की है। इंटर के बाद वह पटना में रहकर इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहा था और किसी तरह से वह अपना खर्च निकाल पा रहा था। विक्रांत की इस सफलता पर गांव से लेकर इलाके के लोगों के द्वारा बधाई दी जा रही है। बधाई देने वालों में संत मैरिज इंग्लिश स्कूल के प्राचार्य प्रिंस पी जे , विक्रांत के ग्रामीण सुधांशु कश्यप, हिमांशु कश्यप, रामकुमार, ओनामा निवासी पुरुषोत्तम कुमार प्रमुख हैं।

%d bloggers like this: