• Sunday, 27 November 2022
नहीं चली सेटिंग गेटिंग, डीएम ने कर दिया सबको ट्रांसफर..

नहीं चली सेटिंग गेटिंग, डीएम ने कर दिया सबको ट्रांसफर..

शेखपुरा न्यूज़ ब्यूरो

शेखपुरा डीएम योगेंद्र प्रसाद सिंह ने तबादले को लेकर सेटिंग गेटिंग करने वालों की एक नहीं चलने दी और फाइल मंगा कर सीधा सब का तबादला कर दिया। तबादले की खबर फैलते ही संविदा पर बहाल मनरेगा, आवास योजना सहित अन्य कर्मचारी हक्के-बक्के रह गए। अगली कड़ी में पंचायत सेवकों का भी तबादला इसी तरह करने की भनक मिल रही है। जिलाधिकारी के इस तरह से तबादले किए जाने की चर्चा जोरों पर है।

किसका हुआ तबादला

मनरेगा और आवास योजना से जुड़े कर्मचारियों का तबादला कर दिया है। बड़ी संख्या में हुए तबादले में 200 कर्मियों का नाम शामिल है। 2014 से नियुक्ति के बाद इन लोगों का पहली बार तबादला किया गया है।

एक सप्ताह में करें योगदान

जिलाधिकारी ने सभी को 1 सप्ताह के अंदर अपने निर्धारित स्थान पर योगदान देने का भी निर्देश दिया गया है। इस तबादले की सूची में मनरेगा प्रखंड प्रोग्राम पदाधिकारी, समाहरणालय और प्रखंड और अंचल कार्यालय के कर्मियों का तबादला भी शामिल है। जून को तबादले का महीना भी माना जाता है। इस संबंध में सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मनरेगा पंचायत रोजगार सेवक को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजा गया है। जिले में पंचायत रोजगार सेवक की संख्या 40 है। इसी प्रकार 50 से ज्यादा की संख्या में आवास सहायक और आवास पर्यवेक्षक का भी तबादला किया गया है।

मनरेगा में काम करने वाले पंचायत तकनीकी समन्वयक का भी तबादला कर दिया गया है। बता दें कि पिछले सप्ताह जिला स्थापना समिति की बैठक में बड़े तबादले को लेकर निर्धारित थी परंतु वह बैठक अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया था।

Share News with your Friends

Tags

Comment / Reply From