बरबीघा

सवर्णों के बंदी का असर। रोड जाम। ट्रकों के शीशे फोड़े। फंसे स्कूली बच्चे और यात्री।

बरबीघा (शेखपुरा)

भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच के बैनर तले सवर्णों को आरक्षण की मांग, दलित एक्ट में संशोधन के खिलाफ घोषित बंद को लेकर शेखपुरा जिला के बरबीघा में कई जगहों पर सड़क जाम कर दी गई है। वाहनों के शीशे तोड़े गए, चालकों के साथ मारपीट की गई।

पूर्व सूचना नहीं

पूर्व सूचना नहीं होने की वजह से स्कूली बच्चे भी जाम में फंसे हुए हैं। यात्रियों को परेशानी हो रही है। बरबीघा के पुरानी शहर मोहल्ले में बंद समर्थकों के द्वारा भी सड़क पर ट्रैक्टर की चाबी छीन ली गई, चालक से मारपीट की गई। जिससे रोड जाम लग गया।

बरबीघा वारसलीगंज रोड जाम

वही बरबीघा वारसलीगंज सड़क को नगर परिषद क्षेत्र सीमा समाप्ति स्थल के पास खेतलपुरा (सारे थाना, नालंदा) पूरी तरह से जाम कर दिया गया है।वहां आवागमन पूरी तरह से बाधित है।

खेतलपुरा के पास जाम
श्रीबाबू चौक

जबकि महावीर चौक पर रोड जाम कर रहे लोगों को पुलिस ने समझा-बुझाकर हटा दिया।

बरबीघा के श्री कृष्ण चौक पर स्थिति सामान्य है और यहां पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है।

योगमाया होटल के पास ट्रकों के शीशे तोड़ दिए गए और चालकों के साथ मारपीट की गई। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने बंद समर्थकों को खदेड़ दिया।

फंस गए स्कूली बच्चे

बंद समर्थकों के द्वारा पूर्व से बंदी की सूचना नहीं दिए जाने की वजह से निजी और सरकारी स्कूल के बच्चे पूरी तरह से फंस गए हैं और कई स्कूल खुले होने की वजह से बच्चे पहुंच गए पर उपद्रव को देखते हुए स्कूल संचालकों ने स्कूल में छुट्टी दे दी जिससे घर जाने में बच्चों को परेशानी हो रही है।

नालंदा के सारे थाना के बहादुरपुर में एनएच 82 पे जाम
%d bloggers like this: