• Wednesday, 05 October 2022
पत्नी के नाम फर्जी फर्म बनाकर सरकारी राशि गोलमाल करने वाला सरकारी कर्मचारी बर्खास्त

पत्नी के नाम फर्जी फर्म बनाकर सरकारी राशि गोलमाल करने वाला सरकारी कर्मचारी बर्खास्त

पत्नी के नाम फर्जी फर्म बनाकर सरकारी राशि गोलमाल करने वाला सरकारी कर्मचारी बर्खास्त


 
बरबीघा, शेखपुरा
 
शेखपुरा जिले के शेखोपुरसराय और बरबीघा का लेखापाल सह आईटी सहायक को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है। सहायक पर अपनी पत्नी के नाम से फर्जी फार्म बनाकर सरकारी राशि का गोलमाल करने का आरोप था। वह   टैक्स चोरी का भी आरोप लगा था। इस मामले में सरकारी कर्मचारी पर सरकारी डोंगल, आईडी, पासवर्ड का दुरुपयोग करने का भी आरोप था। इसी मामले को लेकर उसे नौकरी से बर्खास्त किया गया है । यह बर्खास्तगी जिला पंचायती राज पदाधिकारी के द्वारा किया गया है।
 

 पंचायत पिंजड़ी और ग्राम पंचायत सामस बुजुर्ग 

 
पंचायती राज पदाधिकारी के द्वारा इस मामले में आदेश जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि ग्राम पंचायत पिंजड़ी और ग्राम पंचायत सामस बुजुर्ग के पंचायत सेवक ब्रजेश कुमार के द्वारा आवेदन देकर लेखापाल सह आइटी सहायक राहुल कुमार के विरुद्ध कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। जिसकी जांच प्रखंड विकास पदाधिकारी बरबीघा से कराई गई थी। जिसके बाद स्पष्टीकरण पूछा गया था और स्पष्टीकरण में संतोष लायक जवाब नहीं मिलने पर नौकरी से बर्खास्त किया गया है।
बर्खास्तगी के आदेश में कहा गया है कि लेखापाल के द्वारा  पिंजड़ी  और  सामस बुजुर्ग पंचायत के डोंगल, आईडी और पासवर्ड का दुरुपयोग किया गया। अपने पत्नी के नाम मां शीतला इंटरप्राइजेज का फर्जी फर्म खोला गया फिर भिंडर बन कर उस फर्म के नाम पर राशि भेजकर निकासी की गई। 
 

जिलाधिकारी के द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी को जांच करने के लिए कहा गया

 
इस मामले में जिलाधिकारी के द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी को जांच करने के लिए कहा गया और स्पष्टीकरण पूछा गया इसमें कहा गया कि राहुल कुमार की पत्नी मोना कुमारी मां शीतला इंटरप्राइजेज के नाम से अपने पद का दुरुपयोग करते हुए 31 लाख 76 हजार 500 सौ 27 रुपये का भुगतान किया गया। वही इस जांच के क्रम में लखीसराय जीएसटी विभाग से भी जांच कराई गई जिसमें मात्र 10300 का जीएसटी भुगतान का मामला सामने आया। इस तरह से जीएसटी के कम भुगतान को लेकर कर चोरी का भी मामला सामने आने पर यह कार्रवाई की गई है। 

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like