• Tuesday, 06 December 2022
GOOD News: अब यहां घर की छत पर साग सब्जी उपजा रहे, आप भी करिए

GOOD News: अब यहां घर की छत पर साग सब्जी उपजा रहे, आप भी करिए

GOOD News: अब यहां घर की छत पर साग सब्जी उपजा रहे, आप भी करिए

शेखपुरा 

महंगाई का रोना यदि आप भी रोते हैं और खासकर कभी-कभी सब्जी के महंगे होने पर आपको परेशानी होती है तो इस छोटे से काम को करके आप भी इस महंगाई के जंजाल से बच सकते हैं और इसके लिए आपको कहीं बाहर जाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।

 

 

शेखपुरा जिले में छत पर साग सब्जी उपजाने का प्रचलन धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। जिले में कई लोगों के द्वारा अपने-अपने छतों पर सब्जी, फल फूल इत्यादि उपजाए जाए जा रहे हैं। इसके लिए छतों पर गमले लगाकर ऐसा किया जाता है। जिले के कई शहरी क्षेत्रों में अभी तक यह देखा गया है। परंतु यह परंपरा धीरे-धीरे ग्रामीण क्षेत्रों में भी बढ़ने लगा है।

 

 जिले के सदर प्रखंड के सिरारी गांव में भी ऐसा ही देखा गया। सिरारी गांव में पूर्व जिला परिषद के उपाध्यक्ष रंजीत कुमार उर्फ बुधन भाई के द्वारा अपने घर की छत पर गमले लगाकर उसमें सब्जी की खेती की जा रही है। सब्जी की खेती से पर्याप्त मात्रा में सब्जी का उत्पादन हो रहा है और घर के छत पर सब्जी उपजा कर आसानी से उपयोग किया जा रहा है।

 

 

क्या कहते है किसान

 

 बुधन भाई कहते हैं कि बरबीघा में डॉक्टर कृष्ण मुरारी प्रसाद सिंह के द्वारा यह परंपरा शुरू की गई थी । वहां से देखने के बाद उनको भी प्रेरणा मिली। अपने घर की छत पर 105 गमलों में सब्जी लगाएं हैं। फल रखने वाली टोकरी में मिट्टी भरकर उसमें मूली, गाजर, पालक, धनिया इत्यादि सब्जी और साग लगाया गया है और उसे पर्याप्त मात्रा में उत्पादन लिया जा रहा है। घर की छत पर इस तरह की खेती करने से ज्यादातर सब्जी जैविक हो जाता है और जिसका स्वास्थ्य लाभ भी मिलता है । पर्याप्त मात्रा में उत्पादन उनके द्वारा लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि घर की छत पर खेती करने से परेशानी कम होती है। बाहर नहीं जाना पड़ता है । नुकसान भी कम होता है और उसके रखवाली के लिए भी विशेष पहल नहीं की जाती है।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

Stay Connected

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!