• Friday, 09 December 2022
Good news: विश्व की सर्वश्रेष्ठ शोधकर्ता सूची में शामिल हुआ बिहार की प्रतिभा

Good news: विश्व की सर्वश्रेष्ठ शोधकर्ता सूची में शामिल हुआ बिहार की प्रतिभा

Good news: विश्व की सर्वश्रेष्ठ शोधकर्ता सूची में शामिल हुआ बिहार की प्रतिभा

 

शेखपुरा , न्यूज डेस्क

 

कहते हैं कि होनहार बिरवान के होत चिकने पात । ऐसी ही एक बिहार की प्रतिभा की पहचान दुनियाभर में हो रही है। दुनिया भर के अखबारों और पत्रिकाओं में बिहार की प्रतिभा की चर्चा है । प्रमुख अंग्रेजी अखबारों में भी इस खबर को तरजीह दी है।

 

 दरअसल यह बिहार की प्रतिभा दुनिया भर में शोध  करने वाले 2% टॉपर्स की सूची में शामिल होने का है। इस टॉपर्स की सूची को अमेरिका यूनिवर्सिटी स्टैन फोर्ड यूनिवर्सिटी ने जारी की है। इसमें बिहार के शेखपुरा जिले के बरबीघा नगर में रहने वाले शिक्षक दिनेश कुमार के पुत्र डॉक्टर अमित शंकर को शामिल किया गया है। डॉ अमित शंकर अभी विशाखापट्टनम में आई आई एम में सहायक प्रोफेसर हैं।

 

2% शोधार्थियों में शामिल हुए अमित शंकर

 

 दरअसल अमेरिका के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी ने एक सूची जारी की है जिसमें 2% सर्वश्रेष्ठ शोधार्थी को इसमें शामिल किया गया है। इसमें इंजीनियरिंग, मार्केटिंग, एमबीए सहित सभी क्षेत्रों के शोध करने वाले शामिल हैं। इसी में अमित शंकर को भी स्थान मिला है।

शिक्षक पिता के पुत्र हैं अमित शंकर 

अमित शंकर के पिता निजी विद्यालय में शिक्षक हैं। वे मिशनरी स्कूल राज राजेश्वर उच्च विद्यालय में शिक्षक के रूप में कार्यरत रहे हैं और विज्ञान पढ़ाते हैं। इनकी अपनी प्रसिद्धि है। यहीं से अमित शंकर ने पढ़ाई की। दशवीं यहां से पास करने के बाद बरबीघा के श्री कृष्ण रामरूची कॉलेज से इंटर और स्नातक की पढ़ाई करने के बाद अमित शंकर मैनेजमेंट का रास्ता चुना।

उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध टेक्निकल यूनिवर्सिटी में नामांकन हुआ। वहां से एमबीए करने के बाद आईआईटी खड़गपुर से मैनेजमेंट में पीएचडी किया। अमित शंकर का चयन फिर यहां से आई आई एम विशाखापट्टनम में सहायक प्रोफेसर के रूप में हुआ। अभी अमित शंकर वहां सहायक प्रोफेसर के रूप में कार्यरत हैं।

 

 बताया कि अमित शंकर का अभी तक 50 शोध पत्र प्रकाशित हो चुके हैं। सभी शोध पत्र मोबाइल बैंकिंग, ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल बैंकिंग की उपयोगिता, चुनौती और परेशानी इत्यादि विषयों से संबंधित है। इसी को लेकर अमेरिका की यूनिवर्सिटी ने अमित शंकर का चयन दुनिया के 2% सर्वश्रेष्ठ शोधार्थी के रूप में किया है । अमित शंकर के इस उपलब्धि पर क्षेत्र में खुशी की लहर है। अमित शंकर के बड़े भाई सुमित शंकर शेखपुरा के चेवाड़ा प्रखंड में सहायक शिक्षक के रूप में कार्यरत हैं । उन्होंने इस उपलब्धि को परिश्रम के बल पर हासिल करने वाला बताया। ये लोग शेखपुरा के घाटकुसुम्भा प्रखंड के गगौर गांव निवासी है।

Share News with your Friends

Comment / Reply From