• Wednesday, 05 October 2022
जरा सी लापरवाही में लगातार किसानों की हो रही है मौत, नहीं बरत रहे हैं सावधानी

जरा सी लापरवाही में लगातार किसानों की हो रही है मौत, नहीं बरत रहे हैं सावधानी

जरा सी लापरवाही में लगातार किसानों की हो रही है मौत, नहीं बरत रहे हैं सावधानी

 

 शेखपुरा 

 

जिले में जरा सी लापरवाही में किसानों की लगातार मौत हो रही है । मौत का यह सिलसिला पिछले कुछ सालों से लगातार जारी है। मौत के इस सिलसिले में हालांकि मुआवजे को लेकर तरह-तरह की बातें उठाई जाती है परंतु किसानों के मौत का यह सिलसिला कम गुणवत्ता के बिजली के तार से बोरिंग चलाना माना जाता है। सस्ते एलमुनियम के तार को किसान खेत में बोरिंग चलाने के लिए उपयोग करते हैं और प्लास्टिक का साधारण उस पर कवर लगा रहता है।

 

 धूप पड़ने के बाद कवर खत्म हो जाता है और वह तार नंगी तार बन जाती है और वह मौत का कारण बन जाती है। ऐसे कई किसानों की मौत इस वजह से हुई है। हालांकि लिखित रूप से इस तरह से मौत की बात बहुत कम जगह ही सामने आती है। मुआवजे को लेकर सरकारी पोल के बिजली के तार टूटने की बात पर प्रायोजित की जाती है।

 

 

फिर दो किसान युवक की हो गई है मौत

 

 

 शेखपुरा सदर प्रखंड के कुसुंभा ओपी अंतर्गत कोसरा गांव की घटना है। यहां मछली पालक किसान की मौत हो गई। बताया जाता है कि बोरिंग चलाने के क्रम में करंट लगने से किसान की मौत हुई है। मृतक युवक की पहचान 22 वर्षीय शंभू शरण पांडे के पुत्र रिंकू पांडे के रूप में की गई। किसान युवक की मौत के बाद गांव में मातम की स्थिति है। गांव की लोगों की मानें तो बिजली के पोल में करंट आने से युवक की मौत हुई है। मौत किस तरह से हुई है इसकी स्पष्ट जानकारी नहीं मिली है।

 

खेत देखने गए महेश सिंह की भी करंट से मौत

 

 शेखपुरा सदर प्रखंड के ही बर्मा गांव का यह मामला है। यहां भी खेत देखने गए महेश सिंह की करंट लगने से मौत हो गई।

Share News with your Friends

Comment / Reply From