latest posts

9430804472 / 7992322662
BIHAR NEWSCORONA NEWSशेखपुरा

हद हाल है: टीका लगाने के बाद नहीं मरने की लिखित गारंटी मांग रहे ग्रामीण

बरूणा गांव में टीका लगाने में बुर्जुग भी उत्सहित रहे
शेखपुरा
शेखपुरा जिला में कोविड-19 प्रतिरोधी टीकाकरण को लेकर कई गांव में काफी उत्साह का माहौल देखा जा रहा है और कहीं-कहीं तो टीका भी कम पड़ जा रहा है। मंगलवार को भी टीकाकरण को लेकर यही स्थिति देखने को मिली। जब जिले के लोहान गांव में टीकाकरण टीम पहुंची तो वहां 50 लोगों को ही टीका लगाने की व्यवस्था की गई थी जबकि 50 से अधिक लोग निराश होकर लौट गए और अगली बार आने का   कर्मियों ने भरोसा दिया।
यही स्थिति पैन और डिहरी गांव में भी देखने को मिली थी। यहां भी भारी संख्या में उत्साहित लोगों ने टीकाकरण में सहभागिता दी और कोविड-19 प्रतिरोधी टीका लगवाया। हालांकि कई जगहों पर विपरीत स्थिति भी देखने को मिल रही है। शेखपुरा नगर परिषद क्षेत्र के जामा मस्जिद इलाके में लाख समझाने के बाद भी दूसरे दिन भी कोविड-19 प्रतिरोधी टीका लोग नहीं लगवा रहे हैं। कई सामजिक लोगों ने भी पहल की पर असर नहीं दिखा। टीका टीम निराश लौट गई।

 टीका लगाने के बाद नहीं मरने की गारंटी 

शेखपुरा जिला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ अशोक कुमार कहते हैं कि गांव में टीका लगाने के लिए ग्रामीणों के द्वारा उलूल जलूल सवाल किए जाते हैं। कई ग्रामीणों के द्वारा अभद्र व्यवहार भी किया जाता है। टीका कर्मी के साथ गाली गलौज भी की जाती है। और उल्टे सीधे सवाल पूछे जाते हैं। ऐसी सवालों में कई लोगों के द्वारा टीका लगाने के बाद नहीं मरने की लिखित गारंटी मांगी जाती है। हालांकि उनके द्वारा पूरा भरोसा दिया जाता है। तब जाकर ग्रामीण कुछ समझते हैं। परंतु कई लोग बिल्कुल ही जागरूकता नहीं दिखा रहे हैं। टीका नहीं लगा रहे। हालांकि गांव में टीकाकरण की स्थिति कई जगह बेहतर भी देखी जा रही है।

stay connected

- Advertisement -

ताज़ा ख़बर

- Advertisement -
error: Content is protected !!
Open chat
%d bloggers like this: