latest posts

9430804472 / 7992322662
BIHAR NEWSबरबीघाराष्ट्रीय

कलंक कथा: सेक्स रैकेट से जुड़ी कौन है लड़की, माफिया का कहां से जुड़ा है तार और कोठे पर कौन पहुंचाती है लड़कियों को जानिए खुलासा 

2.47Kviews
बरबीघा/शेखपुरा (न्यूज डेस्क)
बुधवार को शेखपुरा जिले के बरबीघा थाना से कुछ ही दूरी पर एक होटल में सेक्स रैकेट का खुलासा किया गया। पुलिस की छापेमारी में देह व्यापार से जुड़ी एक लड़की और 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया जिसमें कोयरीबीघा निवासी विनोद महतो नामक होटल का मालिक और देह व्यापार का संचालक भी शामिल है। इस संचालन के पीछे अंतर जिला गिरोह के काम करने का मामला सामने आ चुका है और इसमें एक महिला के द्वारा गरीब घर की लड़कियों को बहला-फुसलाकर होटल तक पहुंचाने और देह के धंधे में धकेलने का मामला भी सामने आया है। पड़ताल में तह पर तह खुलता चला गया और इस रैकेट में और कई तार जुड़े हुए हैं।

कौन है लड़की, कौन-कौन लोग पकड़े गए

होटल में पकड़ी गई लड़की दरअसल बरबीघा प्रखंड के जयरामपुर थाना क्षेत्र के पांक पंचायत अंतर्गत एक गांव की निवासी है। वह बरबीघा नगर परिषद के हाई स्कूल से सटे मोहल्ला में एक प्रधानाध्यपक के मकान में किराए पर रहती है। वह अपने बच्चों को पढ़ाने के नाम पर वहां रहती है और पति साथ में नहीं रहता। पति के द्वारा ऑटो चलाए जाने की बात कही जा रही है। इसी लड़की का संपर्क नालंदा जिले के बिंद निवासी पूजा से होती है। पूजा इसे देख धंधे में धकेल देती है। लड़की ने खुद स्वीकार किया कि ₹2000 उसके देह की कीमत लगाई गई थी। फिर ग्राहकों से पैसा वसूलने का काम विनोद महतो करता था और इसी तरह इस देह के कारोबार का संचालन हो रहा था ।
इस मामले में पकड़े गए लोगों में शेखोपुरसराय में मोबाइल दुकान चलाने वाला जोधनबीघा निवासी दीपक शर्मा, इसी गांव में किराना दुकान चलाने वाला त्रिपुरारी कुमार एवं इसी गांव के किसान प्रमोद सिंह को पकड़ा गया। उसी के साथ बरबीघा के पटेलनगर निवासी होटल में काम करने वाला एक युवक सूरज कुमार को भी पकड़ा गया। वही बरबीघा के कटपीस गली के पास रहने वाला राज वर्मा को पकड़ा गया। राज वर्मा के बारे में पुलिस ने बताया कि यह ग्राहक को होटल तक पहुंचाने के काम में दलाली करता है। वही होटल संचालक विनोद महतो को भी पकड़ा गया। सभी को पुलिस के द्वारा कोरोना जांच के बाद जेल भेजने का काम करेगी।

लेट से आती पुलिस तो पकड़े जाते मुखिया और कई प्रतिष्ठित लोग

देह व्यापार के धंधे में होटल में मुखिया और कई राजनीतिक लोगों के आना-जाना था। पुलिस ने बताया कि अगर यहां आने में थोड़ी देर होती तो एक प्रसिद्ध मुखिया के पकड़े जाने की बात भी सामने आ जाती। वहीं इस मामले में राजनीतिक संरक्षण का मामला भी सामने आया है। जबकि होटल में धंधे के संचालन में पूर्व में पुलिस के मैनेज किए जाने की बात भी हुई थी। वहीं थानाध्यक्ष के बदले जाने पर कई माह बाद यह छापेमारी हुई। इससे पहले भी छपेमारी पुलिस के द्वारा की गई थी परंतु ताला लगाकर संचालक भाग जाता था।

डायरी में ग्राहकों के नाम है दर्ज

विनोद महतो के पास से पकड़े गए एक डायरी में कई ग्राहकों के नाम दर्ज हैं। उन ग्राहकों से पूछताछ करने की तैयारी में भी पुलिस जुट गई है। डायरी में कई राज खुलने के बात सामने आ रही हैं। जिसका कनेक्शन नालंदा, पटना से भी जुड़ा हुआ है।इसमें वैसे लड़कियों का नाम भी शामिल है जिसको होटल तक लाया जाता था। बताते हैं कि कभी-कभी आधा दर्जन से अधिक लड़कियों को होटल में लाया जाता था और विनोद महतो ग्राहकों को फोन करके यहां बुलाता था। व्हाट्सएप के जरिए फोटो भी भेज कर कीमत तय की जाती थी।

लड़की को कर दिया गया पति के हवाले

पकड़ी गई लड़की को कानून के अनुसार पीड़िता मानते हुए पति के हवाले कर दिया गया। थानाध्यक्ष जयशंकर मिश्र ने बताया कि कानूनन लड़की को पीड़िता माना जाता है और उसके पति को बुलाकर लड़की को पति के हवाले कर दिया गया।

1 Comment

Comments are closed.

error: Content is protected !!
व्हाट्सएप मैसेज करें
1
📢 ख़बरें, 📝 अपनी जन समस्या,🛣 अपने क्षेत्र की कोई घटना,कोई ख़ास बात, 💭किसी मुद्दे पर अपनी राय ,लेख/ऑडियो/विडियो/फ़ोटो 📸 Whatsapp 👁‍🗨 पर तुरंत भेज सकते है | 📲 079923 22662
Powered by