शेखपुरा

जिला परिषद अविश्वास प्रस्ताव हो गया खारिज, पहले से ही था मैच फिक्सिंग

शेखपुरा।

शेखपुरा जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को लेकर लाया गया अविश्वास प्रस्ताव खारिज हो गया और जिला परिषद अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष की कुर्सी बरकरार रह गयी। पहले से मैच फिक्सिंग होने की वजह से इसकी संभावना प्रबल मानी जा रही थी।

मंगलवार को इस को लेकर वोटिंग किया गया जिसमें मात्र 3 जिला परिषद सदस्य अध्यक्ष सहित उपस्थित हुए और 4 अनुपस्थित रहे। उपस्थित होने वालों में चेवाड़ा से सदस्य अजय कुमार, अरियरी से अनिता देवी तथा अध्यक्ष निर्मला देवी शामिल है।

इसकी जानकारी देते हुए जिला अधिकारी योगेंद्र सिंह ने बताया कि जिला परिषद अध्यक्ष एवं जिला परिषद उपाध्यक्ष को लेकर अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था। जिस पर मंगलवार को मतदान के लिए तिथि निर्धारित थी। इसी क्रम में मतदान कराया गया जिसमें जिला परिषद अध्यक्ष और जिला परिषद उपाध्यक्ष के विरुद्ध लाया गया अविश्वास प्रस्ताव खारिज हो गया।

शेखपुरा जिले में सात जिला पार्षद

जिले में कुल 6 प्रखंडों में सात जिला पार्षद हैं जिसमें शेखपुरा पूर्वी क्षेत्र से रंजीत कुमार उर्फ बुद्धन भाई पार्षद हैं और यह राजद के नेता भी हैं। इसी तरह शेखपुरा पश्चिमी भाग से रुदल पासवान पार्षद हैं। जबकि चेवाड़ा प्रखंड से अजय कुमार जिला पार्षद सदस्य हैं जबकि अरियरी प्रखंड से जदयू के पूर्व युवा जिला अध्यक्ष दिलीप भाई की पत्नी अनीता देवी जिला पार्षद है।

इसी तरह बरबीघा से गीता देवी जिला पार्षद सदस्य है जबकि घाट कुसुंबा प्रखंड से सुंदर सहनी जिला परिषद सदस्य हैं और निर्मला कुमारी शेखोपुर सराय से जिला परिषद सदस्य हैं। निर्मला कुमारी के पति संजीव कुमार भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष है।

%d bloggers like this: