• Friday, 09 December 2022
JEE Advance : घर पर पढ़ कर रिशु तो किसान की बेटी मिलन ने लहराया परचम

JEE Advance : घर पर पढ़ कर रिशु तो किसान की बेटी मिलन ने लहराया परचम

JEE Advance : घर पर पढ़ कर रिशु तो किसान की बेटी मिलन ने लहराया परचम

 

शेखपुरा

घर पर पढ़ाई करके भी जेईई एडवांस की परीक्षा में सफलता रिशु को मिली है तो किसान की बेटी ने भी सफलता हासिल कर माता पिता के साथ क्षेत्र का नाम रोशन किया है।

 शेखोपुरसराय के पनहेसा गांव निवासी किसान की बेटी मिलन कुमारी ने जेईई एडवांस की परीक्षा अपने परिश्रम के दम पर सफलता प्राप्त की है।

 

 

 जेईई एडवांस परीक्षा परिणाम आने के बाद मिलन कुमारी का सीआरएल रैंक 9460 आया जबकि सामान्य वर्ग ईडब्ल्यूएस रैंक 1220 प्राप्त हुआ है। मिलन कुमारी के प्राथमिक पढ़ाई लिखाई दसवीं कक्षा तक बरबीघा के डिवाइन लाइट पब्लिक स्कूल से हुई है। 

 

बरबीघा में रहकर ही उसने पढ़ाई की है। जबकि आगे की तैयारी कोटा में किया है। बताया जाता है कि मिलन के पिता मुकेश कुमार उर्फ सबलू सिंह किसान हैं और माता रेखा देवी गृहिणी। शिक्षिका दादी ने पढ़ाने में मदद की है। राजीव रंजन कुमार ने इस सफलता पर बधाई दी है।

 

ट्यूशन पढ़ाते हुए स्वाध्याय से रिशु ने पाई सफलता

बरबीघा

होनहार बिरवान के होत चिकने पात। यह लोकोक्ति प्रचलित है। ऐसे ही एक होनहार किशोर ने सफलता का परचम जेईई एडवांस में लहराया है। रिशु कुमार ने घर पर बच्चों को ट्यूशन पढ़ाते हुए स्वाध्याय कर जेईई एडवांस में सफलता प्राप्त की है। रिशु को सीआरएल रैंक 4158 मिला है जबकि अति पिछड़ा वर्ग में 790 अंक प्राप्त हुआ है।

 

रिशु के पिता बरबीघा के झंडा चौक स्थित कटपीस गली में मांझी वस्त्रालय के नाम से कपड़ा दुकान चलाते हैं। बच्चों के पढ़ाई लिखाई में उनके द्वारा विशेष ध्यान दिया गया। रिशु ने दसवीं की पढ़ाई बरबीघा के निजी विद्यालय से की। जबकि 12वीं की पढ़ाई मेहूस कॉलेज से करते हुए घर पर रहकर स्वाध्याय किया। आनलाइन क्लास भी लिए । वहीं घर पर बच्चों को ट्यूशन पढ़ाते हुए यह सफलता प्राप्त की है। रिशु की इस सफलता पर बड़ी संख्या में लोगों ने बधाई दी है।

Share News with your Friends

Comment / Reply From