• Friday, 09 December 2022
वकील करें सहयोग तो न्यायिक व्यवस्था में बिहार होगा नंबर वन : संजय करोल, चीफ जस्टिस

वकील करें सहयोग तो न्यायिक व्यवस्था में बिहार होगा नंबर वन : संजय करोल, चीफ जस्टिस

वकील करें सहयोग तो न्यायिक व्यवस्था में बिहार होगा नंबर वन : संजय करोल, चीफ जस्टिस  

 
शेखपुरा
 
पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश संजय करोल बुधवार की शाम शेखपुरा पहुंचे । शेखपुरा में उन्हें सर्किट हाउस में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। वहां से महाभारत कालीन गिरहिंडा पहाड़ पर स्थित बाबा कामेश्वर नाथ मंदिर में दर्शन किया। पूजा अर्चना के उसके बाद वह शेखपुरा न्यायालय परिसर में बने एडीआर भवन का उद्घाटन किया। साथ ही साथ यहां एक पालना घर का भी उनके द्वारा शुभ उद्घाटन किया गया।

न्यायालय में पालना घर में खेलेंगे बच्चे

 
मुख्य न्यायाधीश संजय करोल के द्वारा न्यायालय में बने पालना घर का उद्घाटन किया गया। इसमें बच्चों के खिलौने रखे गए हैं। न्यायालय परिसर में आने वाले लोगों के बच्चों के खेलने की व्यवस्था की गई है। यह पहल बच्चों के खुशनुमा माहौल देने के लिए किया गया है। ताकि किसी भी स्थिति में बच्चे यहां तनावपूर्ण माहौल को महसूस नहीं करें।

एडीआर भवन में होगा पारिवारिक विवाद का निपटारा

 
संजय करोल के द्वारा एडीआर भवन का उद्घाटन किया गया। इस भवन में पारिवारिक न्यायालय चलेगा और विवादों का निष्पादन किया जाएगा। साथ ही  भवन में मध्यस्थता केंद्र का भी संचालन होगा। मध्यस्थता केंद्र में किसी भी तरह के विवादों को न्यायालय से पहले ही बीच में मध्यस्था करके सुलझाने की पहल होगी।

बिहार को देशभर में नंबर वन बनाने की पहल

 
न्यायमूर्ति मुख्य न्यायाधीश संजय करोल के द्वारा अपने संबोधन में कहा गया कि अधिवक्ता यदि रचनात्मक सहयोग करें तो बिहार पूरे देश में न्यायिक व्यवस्था में अव्वल हो जाएगा। उन्होंने   अधिवक्ताओं से किसी भी मुकदमे को कोर्ट तक ले जाने से पहले आपसी समझौते से सुलझाने की पहल की बात कही । कहा कि इससे अधिवक्ताओं के आमदनी में कोई कमी नहीं आएगी। बल्कि और अधिक लोग उनके पास आएंगे। ऐसा उन्होंने अपने अनुभवों को साझा करके भी बताया।
 
अपने संबोधन में उन्होंने यह भी कहा कि कोविड-19 महामारी के दौर में भी बिहार के न्यायालय का दरवाजा आम लोगों के लिए खुला रहा । संजय करोल ने महिलाओं और युवाओं से वकालत के पेशे में आने की अपील करते हुए इसे देश और समाज के दिशा में सकारात्मक पहल करने वाला काम बताया । इस मौके पर पटना हाई कोर्ट के कई न्यायाधीश के साथ-साथ स्थानीय अधिवक्ता और न्यायिक सेवा के लोग उपस्थित रहे। जिनमें जिला जज राजकुमार, अधिवक्ता चंद्रमौली यादव, विनोद सिंह इत्यादि प्रमुख हैं। वहीं जिलाधिकारी सावन कुमार, पुलिस अधीक्षक कार्तिकेय शर्मा ने भी इस मौके पर अपनी उपस्थिति दी।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like