• Wednesday, 05 October 2022
दबंग अवधेश यादव ने परदेसी मांझी को घर से उठा लिया, आठ दिन से बनाए है बंधक, बांध कर पिटाई

दबंग अवधेश यादव ने परदेसी मांझी को घर से उठा लिया, आठ दिन से बनाए है बंधक, बांध कर पिटाई

दबंग अवधेश यादव ने परदेसी मांझी को घर से उठा लिया, आठ दिन से बनाए है बंधक, बांध कर पिटाई
 
लालू नगर गांव से सामने आया है । यहां बेचन मांझी के पुत्र प्रदेशी मांझी
 
हथियामा थाना के  निवासी जमुना यादव के पुत्र अवधेश यादव  
 
बरबीघा, शेखपुरा
 

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं । ऐसा ही एक मामला शेखपुरा जिले के बरबीघा थाना क्षेत्र अंतर्गत लालू नगर गांव से सामने आया है । यहां बेचन मांझी के पुत्र प्रदेशी मांझी को हथियामा थाना के  निवासी जमुना यादव के पुत्र अवधेश यादव ने घर से अगवा कर लिया। 8 दिनों से अपने घर में कैद करके उनके साथ मारपीट की जा रही है। दबंग अवधेश यादव चिमनी भट्ठा का कारोबार करता है। गांव के पास ही  पास चिमनी चलता है।

बताया जा रहा है कि अवधेश यादव ने चिमनी पर काम करने के लिए परदेसी   को एडवांस में 20 हजार की राशि दी थी । उस राशि को लेकर काम नहीं करने की वजह से गुस्साए दबंग ने उसे घर से उठा लिया और अपने गांव में ले जाकर बांधकर उसकी पिटाई की जा रही है।
 
परदेसी मांझी का पिता बेचन मांझी जब उसे छोड़ने के लिए कहने के लिए घर गया तो उसके साथ ही गाली गलौज मारपीट की गई।   मंगलवार को बेचन मांझी बरबीघा थाना पहुंचे और इसकी शिकायत को लेकर आवेदन देने गए । मौके पर मौजूद अधिकारी के द्वारा दूसरे थाने का मामला कहकर टरका दिया गया। बाद में मीडिया के हस्तक्षेप पर आवेदन लिया गया और हथियामा ओपी उसको लेकर पहुंची। जहां से ओपी प्रभारी के द्वारा अवधेश यादव को कॉल किया गया और बंधक बनाए गए परदेसी मांझी को छोड़ने के लिए कहा गया।
 

 छोड़ने की बात पर अवधेश मंडल और भड़क गया 

 
इस बीच परदेसी के छोड़ने की बात पर अवधेश   और भड़क गया और बेचन मांझी से फोन पर ही गाली गलौज करने लगा। पुलिस जब गांव पहुंची और गांव के एक दालान पर बैठकर लोगों से अवधेश यादव के द्वारा बंधक बनाए गए परदेसी मांझी को छोड़ने के लिए कहा गया परंतु वह नहीं माना और मोबाइल बंद करके घर से गायब हो गया। इस पूरे मामले में देर रात भर ड्रामा चलता रहा। कम संख्या में पुलिस होने की वजह से छापेमारी करने का साहस पुलिस नहीं जुटा सकी और पुलिस बैरंग वापस लौट गई। इस मामले में पुलिस कप्तान से पूछे जाने पर बताया कि उनको जानकारी नहीं दी गई है।यह गंभीर मामला है।  इस पर गंभीरता से कार्रवाई करेगी और परदेसी मांझी को कैद से छुड़ाया जाएगा।

Share News with your Friends

Comment / Reply From

You May Also Like