• Tuesday, 04 October 2022
सरकारी अस्पताल में डॉक्टर नहीं रहने पर भड़के सीपीआई नेता धरने पर बैठे थे

सरकारी अस्पताल में डॉक्टर नहीं रहने पर भड़के सीपीआई नेता धरने पर बैठे थे

सरकारी अस्पताल में डॉक्टर नहीं रहने पर भड़के सीपीआई नेता धरने पर बैठे थे


 
शेखपुरा
 
शेखपुरा सदर अस्पताल की कुव्यवस्था मंगलवार को जिलाधिकारी के औचक निरीक्षण में भी सामने आया। जिलाधिकारी ने सख्त कार्रवाई की। चिकित्सक का वेतन बंद किया। वहीं बुधवार की दोपहर भी सदर अस्पताल में चिकित्सक के नहीं रहने पर जमकर हंगामा हो गया। यह हंगामा सीपीआई के नेताओं ने किया। सीपीआई के नेता अस्पताल में ही धरना पर भी बैठ गए।
 
 

दरअसल सदर अस्पताल में यह हंगामा तब हुआ जब सीपीआई के दो दिवसीय जिला सम्मेलन में बेगूसराय से आए नेता की तबीयत बिगड़ गई। उल्टी और पेट दर्द की वजह से उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया । सदर अस्पताल में डॉक्टर के नहीं रहने पर सीपीआई के जिला सचिव प्रभात पांडे ने जिलाधिकारी सावन कुमार से इसकी शिकायत कर दी। आनन-फानन में एक चिकित्सक दौड़े भागे आए और गुस्से में उल्टी और पेट दर्द के मरीज को बिना देखे ही पावापुरी मेडिकल अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। इसी से सीपीआई के नेता भड़क गए और सदर अस्पताल में धरना पर बैठ गए। प्रभात पांडे ने बताया कि अस्पताल की व्यवस्था जग जाहिर है। सिविल सर्जन कुछ नहीं करते।

Share News with your Friends

Comment / Reply From