शेखपुरा

शेखपुरा: हैरी अप, शिक्षक की निकली है हैवी बहाली, 25 जून तक करें आवेदन..

शेखपुरा: हैरी अप, शिक्षक की निकली है हैवी बहाली, 25 जून तक करें आवेदन..

शेखपुरा न्यूज़ ब्यूरो: जिले में संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में खाली पदों को जल्द ही भर दिया जाएगा। शिक्षा विभाग इस प्रक्रिया को पूरी करने में जुट गया है।

जिले में घाटकुसुम्भा प्रखंड के गगौर में संचालित कस्तूरबा विद्यालय के अलावा सभी प्रखंडो में संचालित विद्यालयों के वार्डेन के पद खाली पड़ें है। इसके अलावा बडी संख्या में शिक्षिका के पद भी इन विद्यालयों में खाली है। बर्षाे से खाली इन पदों के भरने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा एक बार फिर से विज्ञापन निकाला गया है।

इन पदों पर बहाली के लिए इच्छुक उम्मीदवार 25 जून तक आवेदन कर सकते है। आवेदन डाक के माध्यम से जिला शिक्षा कार्यालय में भेजा जा सकेगा। आवेदन विहित प्रपत्र में मांगा गया है। विहित प्रपत्र का प्रारुप जिला के अधिकारिक वेब साइट पर डाल दिया गया है।

डीपीओ बैजनाथ कुमार ने बताया कि कस्तुरबा बालिका विद्यालय के
05 वार्डन के अलावा
04 अंशकालिक शिक्षिका भाषा के लिए और
05 गणित और विज्ञान और

03 सामाजिक विज्ञान के लिए बहाल किया जाना है।

05 लेखापाल,
04 आदेशपाल,
03 रात्रि प्रहरी,
06 मुख्य रसोइया और
09 सहायक रसोइया की बहाली की जानी है।

200 लगेगा फी

उन्होंने बताया कि इस बहाली के आवेदको को 200 रुपया का शुल्क देना होगा। अनुसूचित जाति व जन जाति के आवेदक को कोई फीस नही देना है। इसके अलावे इस बहाली प्रक्रिया में पहले से आवेदन कर चुके आवेदकों को भी कोई शुल्क नही देना है।

कमजोर वर्ग की बालिकाओं को मिलती है शिक्षा

कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्याालय में कमजोर वर्ग की बालिकाओं को मुफ्त शिक्षा मिलती है। जिले के प्रत्येक प्रखंडो में संचालित एक एक विद्यालय में इस प्रकार की 100 बालिका को नामंकित किया जाता है। अनुसूचित जाति, जन जाति और अल्प संख्यक समुदाय की बालिका को प्राथमिकता दी जाती है।

विद्यालय में छठी क्लास में नामांकित करने के बाद आठवीं तक इन्हे खाने, पढने, रहने आदि की मुफ्त व्यवस्था के साथ साथ उन्हे कई प्रकार के हुनर भी सिखाये जाते है। बालिका को सशक्त बनाने के काम में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

5 Comments

  1. Sheikhpura district ka official website Kya h
    Kasturba vidylya ka form Kha se download hoga

Comments are closed.

%d bloggers like this: