latest posts

9430804472 / 7992322662 sathisnews@gmail.com
शेखपुरा

यूरिया कालाबाजारी। छापेमारी की सूचना हो गई लीक। गोदामों का पता नहीं

शेखपुरा।

उर्वरक की कालाबाजारी की सूचना मिलने पर जिला अधिकारी योगेंद्र सिंह के निर्देशानुसार जहां अनुमंडलाधिकारी राकेश कुमार छापेमारी के लिए जिले के बरबीघा प्रखंड पहुंचे वहीं पूर्व से इसकी सूचना लीक हो जाने की वजह से सभी दुकानदारों ने अपनी अपनी दुकानें बंद रखी। इस आशय की जानकारी देते हुए जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी सत्येंद्र प्रसाद ने बताया कि अनुमंडलाधिकारी के द्वारा छापेमारी में निर्धारित गोदाम के स्थानों पर कहीं भी गोदाम नहीं मिला।

उर्वरक कालाबाजारी के मामले को गंभीरता से लेते हुए अनुमंडलाधिकारी ने छापेमारी की सूचना लीक हो जाने की रिपोर्ट जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह को दे दी है।

मौके पर अनुमंडलाधिकारी ने बताया कि छापेमारी की सूचना लीक हो जाने की वजह से सभी दुकानदारों ने दुकानें बंद रखी। वहीं गोदाम का भी कहीं पता नहीं चल सका। उधर जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि पर्याप्त मात्रा में जिले में उर्वरक उपलब्ध करा दी गई है।

लक्ष्य से अधिक उर्वरक का उठाव

जिला कृषि पदाधिकारी लाल बच्चन राम के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार जिले में यूरिया उर्वरक के लक्ष्य 6376 मेट्रिक टन रखा गया था जबकि अब तक 6845 मेट्रिक टन का उठाव हो चुका है।

वहीं डीएपी उर्वरक का लक्ष्य 1704 मेट्रिक टन रखा गया था जबकि अब तक 1790 मेट्रिक टन का उठा हो चुका है। इस तरह जिले में लक्ष्य से अधिक यूरिया और डीएपी का उठाव हो चुका है।

266 प्रति पूरा यूरिया

उन्होंने बताया कि जिले में 111 लाइसेंसी दुकानदार हैं। लाल बच्चन राम ने बताया कि 45 kg के यूरिया को ₹266 में दुकानदारों को बेचना है। यदि इससे अधिक कीमत पर बेची जाती है तो दुकानदारों का लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा।

stay connected

- Advertisement -

ताज़ा ख़बर

- Advertisement -
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: