latest posts

9430804472 / 7992322662 sathisnews@gmail.com
शेखोपुरसराय

क्लास में बच्चे खेल रहे थे और गुरुजी आराम से सो रहे हैं.. हाल बिहार में शिक्षा व्यवस्था का

शेखोपुरसराय। सौरव कुमार की रिपोर्ट

सरकारी स्कूल में बच्चों को पढ़ाने की बजाय गुरुजी आराम फरमाना अधिक पसंद करते हैं। कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला शेखोपुरसराय प्रखंड के डोबाडीह मध्य विद्यालय में।

यहां गुरु जी आराम से सो रहे थे और बच्चे क्लास में खेल रहे थे। नींद खुलने पर गुरु जी कहते हैं कि सरकारी नौकरी है सोने दीजिए सर!!

इस संबंध में पूछे जाने पर प्रधानाध्यापक ने कहा कि शिक्षक को सख्त हिदायत दी गई थी कि क्लास संचालित करना है और बच्चों को पढ़ाना है।

वही इस संबंध में शिक्षक शंकर रविदास कहते हैं कि गर्मी की वजह से आंख लग गई थी इसलिए क्लास में पढ़ाने के लिए नहीं जा सका। बहरहाल जो भी हो, सरकारी नौकरी लोग किसी आरामतलबी के लिए अधिक करना पसंद करते हैं।

stay connected

- Advertisement -

ताज़ा ख़बर

- Advertisement -
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: