latest posts

9430804472
शेखपुरा

जल जीवन हरियाली अभियान में निबंध, वाद विवाद प्रतियोगिता का होगा आयोजन

शेखपुरा

इनायत खान जिलाधिकारी शेखपुरा ने अपने प्रकोष्ट में आज जल जीवन हरियाली अभियान की समीक्षात्मक बैठक किए। उन्होंने कहा कि जिले को पर्यावरण प्रदूषण से मुक्त करने के लिए जल जीवन हरियाली जागरूकता अभियान को सफल करने के लिए अधिकारी हर संभव कदम उठाएॅ।


इसके तहत 11 से 30 सितम्बर तक कार्यालयों के दिवालों पर दिवाल पेंटिग किया जाना है। 13 से 20 सितम्बर तक जिला मुख्यालय एवं प्रखंड मुख्यालय में जिला जन-सम्पर्क पदाधिकारी को निर्देश दिया कि हाॅल्डिंग लगाकर जल जीवन हरियाली अभियान को व्यापक प्रचार-प्रसार करें। जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि 14 से 21 सितम्बर तक ग्राम स्तर पर समुदाय को जागरूक करने के लिए नुक्कड़ नाटक का आयोजन करें। 15 से 25 सितम्बर तक जल जीवन हरियाली अभियान को सफल बनाने के लिए कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। जिला कृषि पदाधिकारी किसानों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ टपकन सिंचाई, जैविक खेती एवं अन्य तकनीकों का उपयोग करने के लिए कार्यशाला /जागरूकता शिविर का आयोजन करें।

जिला प्रशासन के द्वारा इस अभियान के सफल संचालन के लिए पिछले दिनों जन जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया है। 18 से 20 सितम्बर तक जीविका दीदीयों के द्वारा ग्राम स्तर पर जल जीवन हरियाली अभियान एवं उससे संबंधित नारा के द्वारा प्रचार-प्रसार करेंगे।

21 को पेंटिग प्रतियोगिता, 23 निबंधन प्रतियोगिता एवं 24 सितम्बर को वाद-विवाद प्रतियोगिता जिले के सभी विद्यालयों एवं महा विद्यालयों में कराने का आदेश जिला शिक्षा पदाधिकारी को दिया गया। 26 सितम्बर जिला स्तर एवं प्रखंड स्तर पर विशाल साइकिल रैली का आयोजन किया जायेगा। इसमें छात्राओं एवं जीविका दीदीयों को भी स्थान दिया जायेगा।

27 से 28 सितम्बर तक सभी पंचायतों में जन भागीदारी के साथ सार्वजनिक जल स्त्रोतों एवं उसके रास्ते में पड़ने वाले प्लास्टिक कचरा की सफाई एवं उसका निस्तारण किया जायेगा। 29 सितम्बर को ग्राम एवं प्रखंड स्तर पर जन भागींदारी के साथ पानी सोख्ता गड्डा का निर्माण किया जायेगा। 01 अक्टूबर को जिला एवं प्रखंड स्तर पर जल जीवन हरियाली अभियान को सफल क्रियान्वयन के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया जायेगा। 02 अक्टूबर को जिला स्तरीय कार्यक्रम में जल जीवन हरियाली जागरूकता अभियान में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों /सदस्यों को आकर्षक पुरस्कार दिया जायेगा।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि जीवन के लिए जल अतिआवश्यक है। हमारा देश कृषि प्रधान देश है। हमारी कृषि मुख्यतः जल पर ही निर्भर है। वर्षा के अनिश्चिता के कारण कभी अतिवृष्टि तो कभी अनावृष्टि होती है। इस अनिश्चिता को दूर करने के लिए जल का संरक्षण आवश्यक है। जल संरक्षण, वृक्षारोपन में भी सहायक साबित होता है। वृक्ष वर्षा लाने एवं पर्यावरण में जल संरक्षण में सहायक होते है। जल संकट के समाधान के लिए वृक्षो की कटाई पर नियंत्रण कर, वृक्षारोपन को प्रोत्साहित करना जरूरी है। वृक्षारोपन से पर्यावरण प्रदूषण को कम किया जा सकता है।


आज बैठक में अशोक राम सहायक अभियंता भवन बिना सूचना के अनुपस्थित पाये गये जिलाधिकारी ने अगले आदेश तक उनके वेतन निकासी पर रोक लगा दी। जल जीवन हरियाली के नोडल पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि ससमय सभी कार्यक्रम गुणवता के साथ कराना सुनिश्चित करें अन्यथा विधि-सम्मत् कार्रवाई की जायेगी।
आज की बैठक में सत्येंद्र सिंह उप विकास आयुक्त, सत्य प्रकाश शर्मा अपर समाहर्ता, हरिशंकर राम लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, संजय कुमार डीसीएलआर, सत्येंद्र प्रसाद जिला जन-सम्पर्क पदाधिकारी, लाल बच्चन राम जिला कृषि पदाधिकारी, नंद किशोर राम जिला शिक्षा पदाधिकारी, राकेश कुमार जिला सांख्यिकी पदाधिकारी के साथ-साथ जिला स्तरीय सभी पदाधिकारी उपस्थित थें।

stay connected

- Advertisement -

ताज़ा ख़बर

- Advertisement -
error: Content is protected !!
Open chat
1
📢 ख़बरें, 📝 अपनी जन समस्या,🛣 अपने क्षेत्र की कोई घटना,कोई ख़ास बात, 💭किसी मुद्दे पर अपनी राय ,लेख/ऑडियो/विडियो/फ़ोटो 📸 Whatsapp 👁‍🗨 पर तुरंत भेज सकते है | 📲 079923 22662
Powered by