latest posts

9430804472 / 7992322662
शेखपुरा

वट वृक्ष की पूजा करने के लिए क्यों जुटी महिलाएं , क्या है इसका रहस्य

454views

वट वृक्ष की पूजा करने के लिए क्यों जुटी महिलाएं , क्या है इसका रहस्य

न्यूज़ डेस्क

गुरुवार को वट वृक्ष की पूजा करने के लिए बट सावित्री पूजा के रूप में बड़ी संख्या में विभिन्न जगहों पर महिलाओं को देखा गया। इस दौरान महिलाओं के द्वारा बरगद के पेड़ के चारों तरफ धागा लपेट कर पंखे से हवा दी गई और विधिवत पूजा अर्चना की गई। फूल और प्रसाद भी चढ़ाए गए। वट वृक्ष की पूजा बट सावित्री पूजा के रूप में बड़ी संख्या में महिलाओं के द्वारा उपवास रखकर किया जाता है। गुरुवार को भी इसका आयोजन विभिन्न जगहों पर किया गया । जिसमें महिलाओं के द्वारा वट वृक्ष की पूजा विधि पूर्वक की गई।

क्या है बट वृक्ष की पूजा के रहस्य

वट वृक्ष की पूजा के रहस्य वैसे तो सती सावित्री और सत्यवान प्रसंग से जोड़कर देखा जाता है। इसे पति के लंबी आयु की कामन का व्रत भी कहते है। परंतु इसके और भी पौराणिक महत्व बताए गए हैं। कुछ लोगों का मानना है कि पराशर मुनि के द्वारा इसकी व्याख्या इस रूप में की गई है ‘वट मूले तोपवासा’ अर्थात उन्होंने स्पष्ट रूप से पुराणों में कहा है कि वटवृक्ष में तीनों महादेव का बास है। इसमें ब्रह्मा, विष्णु और महेश शामिल है। इसीलिए बट वृक्ष के पेड़ के नीचे पूजा करने से मनोकामना की पूर्ति होती है। महिलाओं के द्वारा अपने पति के दीर्घायु को लेकर वटवृक्ष के पूजा का भी प्रावधान है। सती सावित्री से जोड़कर इसे बट सावित्री पूजा भी कहा जाता है।

error: Content is protected !!
व्हाट्सएप मैसेज करें
1
📢 ख़बरें, 📝 अपनी जन समस्या,🛣 अपने क्षेत्र की कोई घटना,कोई ख़ास बात, 💭किसी मुद्दे पर अपनी राय ,लेख/ऑडियो/विडियो/फ़ोटो 📸 Whatsapp 👁‍🗨 पर तुरंत भेज सकते है | 📲 079923 22662
Powered by