latest posts

9430804472 / 7992322662
शेखपुरा

बेटी ने पिता के निधन पर परिवार को संभाला, फिर दरोगा बनी और अब बीपीएससी किया क्रेक

2.8Kviews

बेटी ने पिता के निधन पर परिवार को संभाला, फिर दरोगा बनी और अब बीपीएससी किया क्रेक

शेखपुरा

हौसलों से उड़ान होती है। इन पंक्तियों को लगातार लोगों के द्वारा कहते हुए सुना गया होगा परंतु जीवंत रूप में इसे कई जगह देखने को मिलता है। ऐसी कर कहानी है विनीता की। विनीता ने पहले दरोगा की परीक्षा पास की और फिर अब बीएससी की परीक्षा भी पास कर गई है । विनीता शेखपुरा जिले में सब इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत है।

विनीता मूल रूप से वैशाली जिला के घोसवर गांव निवासी हैं। उसके पिता स्वर्गीय विजय सिंह का अचानक 1998 में निधन हो गया और उसी पर सारी जिम्मेदारी आ गई। ट्यूशन पढ़ाकर उन्होंने अपने भाई बहनों की पढ़ाई भी की और भरण पोषण भी किया फिर मेहनत करते हुए उसने दरोगा की परीक्षा में सफलता हासिल की।

भाइयों को पढ़ाने और फिर बिजनेस में उसे स्थापित करने में भी विनीता ने मदद किया। दरोगा की परीक्षा 2014 में पास करने के बाद विनीता के हौसले वही नहीं रुके और उसने और आगे की पढ़ाई जारी रखी और अंततः बीपीएससी की परीक्षा में उसने सफलता हासिल कर ली।

Leave a Response

error: Content is protected !!
व्हाट्सएप मैसेज करें
1
📢 ख़बरें, 📝 अपनी जन समस्या,🛣 अपने क्षेत्र की कोई घटना,कोई ख़ास बात, 💭किसी मुद्दे पर अपनी राय ,लेख/ऑडियो/विडियो/फ़ोटो 📸 Whatsapp 👁‍🗨 पर तुरंत भेज सकते है | 📲 079923 22662
Powered by